• Your IP Address : 18.204.2.231
  •  
  • Unique Hits : 126844
  •  
  • Current Date & Time :
  •  

Event


13 फरवरी प्रेस नोट भोपाल पुलिस

( 13th February 2021 4:05 PM )

प्रेस नोट, सायबर क्राइम, भोपाल🚔


स्टॉक मॉर्केट में इंवेस्ट करने के नाम पर लोगो से ठगी करने वाले गिरोह को सायबर क्राइम भोपाल द्वारा 05 दिवस में कार्यवाही कर होशंगाबाद से किया गिरफ्तार-


स्टॉक मॉर्केट में ज्यादा से ज्यादा मुनाफा का प्रलोभन देते है।


अभी तक लगभग 1 करोड रूपये की धोखाधडी कर चुके है।


भोपाल- दिनांक 13 फरवरी 2021 - श्रीमान अति. पुलिस महानिदेशक भोपाल जोन, भोपाल श्री ए. साईं मनोहर एवं उप पुलिस महानिरीक्षक (शहर) भोपाल श्री इरशाद वली द्वारा दिये गये निर्देश के पालन में अति. पुलिस अधीक्षक जोन-1 भोपाल श्री अंकित जायसवाल एवं उप पुलिस अधीक्षक सायबर श्रीमति नीतू सिंह के मार्गदर्शन में सायबर क्राइम ब्रान्च जिला भोपाल की टीम द्वारा स्टॉक मार्केट में इंवेस्टमेण्ट के नाम पर फरियादी के साथ लगभग 2,20,000/-रूपये की धोखाधडी करने वाले आरोपियो को गिरफतार किया गया है। 


  घटनाक्रम- दिनांक 08.02.2021 को आवेदक के द्वारा षिकायत की गई कि दा ग्लोबल एसएनसी नामक स्टॉक मॉर्केट की कंपनी के नाम से फोन पर संपर्क कर स्टॉक मार्केट में इंवेस्टमेण्ट एवं डीमेट अकाउण्ट ओपन करने का बोला गया एवं उसके बाद शेयर मार्केट में ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट का बोला गया और फरियादी से दा ग्लोबल एसएनसी के बैंक खातो में पैसा जमा करवाया गया और बाद में शेयर मार्केट में नुकसान बता कर फरियादी के साथ 2,20,000/-रूपये की धोखाधडी करने के संबंध में आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया था। 


प्राप्त आवेदन की जॉच की गई जिसमें कुल 02 बैंक खातो में फरियादी से पैसा जमा कराया गया। बैंक से प्राप्त जानकारी के आधार पर बैंक खातो के उपयोगकर्ताओं एवं मोबाइल नंबरो के उपयोगकर्ताओं के विरूद्व अपराध क्र-25/2021 धारा 420 भादवि का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।


 *तरीका वारदातः-*  मुख्य आरोपी अभिषेक गौर अपने अन्य सहयोगियो के साथ मिलकर कंपनी का संचालन करता है जिसमें आरोपी फरियादियो से संपर्क कर उन्हे स्टॉक मार्केट में पैसा लगाने की जानकारी देते थे और ज्यादा से ज्यादा प्राफिट देने का प्रलोभन देकर लोगो से अपनी कंपनी के बैंक खातो मे ंपैसा जमा करा लेते है और लोगो से लिया गया पैसा स्टॉक मार्केट में कभी नही लगाते है। 


इंवेस्टर्स द्वारा जब अपना पैसा वापस मॉगा जाता है तो उन्हे नुकसान होना बताकर पैसा अपने पास रख लेते है।  आरोपीगणों द्वारा एक कॉल सेंटर संचालित किया जाता था जिसमें मुख्य आरोपी अभिषेक गौर कंपनी का संचालन, प्रबंधन एवं ग्राहको को फोन पर बात करना, पवन कुमार अहिरवार कर्मचारियों का प्रषिक्षण और फर्जी सिमों की व्यवस्था करना, विषाल सिंह सोलंकी खाते खुलवाना एवं खाते खुलवाने के लिये दस्तावेज एकत्रित करना एवं मनीष रघुवंषी ऑफिस कार्य की देखरेख का कार्य करता था इनके अतिरिक्त 28 लडकियां एवं 12 लडके कुल 40 लोग इन्वेस्टर्स को कॉल करने के लिए कार्यरत थे। 


*पुलिस कार्यवाहीः-*  सायबर क्राइम जिला भोपाल की टीम द्वारा अपराध कायमी के पष्चात तकनीकि एनालिसिस के आधार पर त्वरित कार्यवाही कर कुल 04 आरोपीगणो को गिरफतार किया गया।


*जप्त सामान-*


 आरोपीगणों से प्रकरण में प्रयुक्त 1 लेपटॉप, 2 कम्पयूटर, 36 मोबाईल फोन, 38 सिम कार्ड 16 एटीएम कार्ड व अन्य दस्तावेजो को जप्त किया गया है। 


*पुलिस टीम-* उनि सुबोध गौतम, उनि बृजकिषोर गर्ग, प्र. आर. पी. चिन्नाराव, आर. तेजराम सेन, आर. शुभम चौरसिया, आर. जावेद खान, आर. राधेष्याम, आर. प्रताप सिंह, आर. षिवम, आर. सुमित, म.आर. यषोदा।


 *पकडे गये आरोपीगणों का विवरण एवं आपराधिक रिकार्डः-* क्रनाम 


*आरोपीपूर्व आपराधिक रिकार्डजाहिरा व्यवसाय01*


01- अभिषेक गौर    ---कंपनी संचालन, प्रबंधन एवं ग्राहको से फोन पर बात करना


02- पवन कुमार अहिरवार     -----कर्मचारियों का प्रषिक्ष्ण और फर्जी सिमों की व्यवस्था करना।


03- विशाल सिंह सोलंकी ----खाते खुलवाना एवं खाते खुलवाने के लिये दस्तावेज एकत्रित करना।


04- मनीष रघुवंषी----ऑफिस कार्य की देखरेख आभिषके गौर की अनुपस्थिति में।