• Your IP Address : 18.204.2.231
  •  
  • Unique Hits : 126851
  •  
  • Current Date & Time :
  •  

Event


06 फरवरी प्रेस नोट भोपाल पुलिस

( 06th February 2021 11:32 PM )

“प्रेस नोट, थाना बैरागढ”


फर्जी अभ्यर्थी बनकर सेना मे भर्ती कराने वाले युवक को बैरागढ पुलिस ने किया गिरफ्तार-


घटना का विवरण-


थाना बैरागढ में दिनांक 06.02.2021 को सेना के अधिकारियो द्वारा थाना बैरागढ मे आकर एक लिखित आवेदन प्रस्तुत किया कि सेना मे महार रेजीमेंट सागर मे भर्ती के दौरान सिलेक्ट हुये अभ्यार्थियो का मेडिकल परीक्षण के दौरान मेड़िकल मे अनफिट हुये अभ्यार्थियो को रिमेडिकल परीक्षण हेतु 3 ईएमई सेंटर बैरागढ मे स्थित आर्मी अस्पताल मे देव को भेजा गया था, जो बायोमैट्रिक मशीन एवं अस्पताल की सील अपने हाथ पर लगाकर अस्पताल मे प्रवेश किया गया था जहाँ पर नेत्र विभाग के समक्ष पेश होने के लिये कतार मे बैठा था जिसकी आखो का रीमेडिकल होना था जिसके द्वारा अपने स्थान पर अपने दोस्त कुमेंद्र सिह को कतार मे बैठाकर वहा से चला गया।


 उक्त अभ्यर्थी के स्थान पर उसका दोस्त कुमेंद्र सिह पिता किशन सिह उम्र 19  साल निवासी म.न. 51 छोटी पार्टी मंगरोल गुजर आगरा रूनकत्ता उ.प्र. मेडिकल के लिये उपस्थित हुआ । जिन्हे सेना के अधिकारियो द्वारा फर्जी तरीके से मेडिकल कर भारतीय सेना मे भर्ती होने का प्रयास करने पर फर्जी अभ्यार्थी कुमेंद्र सिह को लाकर प्रस्तुत किया गया । जिस पर से थाना बैरागढ मे अपराध क्रमाँक-58/2021 धारा 419,420 भादवि की पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया । 


शिकाय प्राप्त होने पर बैरागढ पुलिस तत्काल हरकत मे आई व अभ्यार्थी देव जो कि आर्मा अस्पताल बैरागढ भोपाल से अपने निवास स्थल मथुरा उत्तरप्रदेश भागने की फिराक मे रेल्वे स्टेशन बैरागढ के पास छुपकर ट्रेन के आने का इंतजार कर रहा था तभी बैरागढ पुलिस द्वारा उक्त अभ्यार्थी की तलाश प्रारंभ कर उसे बैरागढ रेल्वे स्टेशन के पास से पकडकर थाना लाया गया जिसका नाम पता पूछने पर अपना नाम *देव जाट पिता जगदीश जाट उम्र 19 साल निवास ग्राम दोंडिया पोस्ट नगला थाना बलदेव जिला मथुरा उ.प्र.* का होना बताया । 


उक्त दोनो आरोपीयो द्वारा प्रतिरूपण द्वारा छल कर धोखाधडी कर भारतीय सेना मे भर्ती होने का प्रयास किया गया है ।

वरिष्ठ अधिकारियो द्वारा अपराध की सूचना पर तुरंत कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया था जिस पर से थाना बैरागढ के अधिकारियों / कर्मचारियों निरीक्षक शिवपाल सिह कुशवाह, उपनिरी एम.एल.सोलंकी, उनि आर.एस. रघुवंशी, आर. 1702 वीरेंद्र बाथम, आर. 1239 गोविंद मिश्रा द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई गई है ।