• Your IP Address : 3.234.211.61
  •  
  • Unique Hits : 125316
  •  
  • Current Date & Time :
  •  

Event


15 जुलाई 21 प्रेसनोट भोपाल पुलिस

( 15th July 2021 4:11 PM )

प्रेस नोट, साइबर क्राइम ब्रांच भोपाल🚔


  सायबर क्राइम ब्रांच भोपाल द्वारा ओक्सीजन कंसंट्रेटर के नाम पर धोखाधडी करने वाली अंतर्राज्यीय दिल्ली गैंग का किया गया खुलासा-


 भोपाल : दिनांक 15 जुलाई 2021- अति. पुलिस महानिदेशक भोपाल जोन, भोपाल श्री ए. साईं मनोहर व पुलिस उप महानिरीक्षक शहर श्री इरशाद वली के दिशा निर्देशानुसार व पुलिस अधीक्षक (दक्षिण) श्री सांई कृष्णा थोटा के निर्देश के पालन में अति0 पुलिस अधीक्षक जोन-1 भोपाल श्री अंकित जायसवाल एवं उप पुलिस अधीक्षक सायबर श्रीमति नीतू सिंह के मार्गदर्शन में सायबर क्राइम ब्रांच भोपाल ने आक्सीजन कंसंट्रेटर के नाम पर धोखाधडी करने वाली अंतर्राज्यीय दिल्ली गैंग का किया खुलासा।


*घटना का संक्षिप्त विवरण:-* आवेदक अक्षय जैन निवासी हबीबगंज भोपाल द्वारा शिकायत की गई थी इनकी स्वयं की ट्रू विनकॉम प्राइवेट लिमिटेड कंपनी है और सामाजिक कार्य करते है। इसलिए कोरोना के दौरान कुछ लोगों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की आवश्यकता होने पर फरियादी द्वारा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सप्लायर का नंबर गूगल पर तलाश किया गया। तलाश के दौरान फरियादी को इण्डिया मार्ट की साइड से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सप्लायर का नंबर प्राप्त हुआ। जिससे बात करने पर उसने अपना नाम विपिन शर्मा बताया और 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के कुल 18 लाख रूपये में खरीदने का सौदा तया किया। विपिन शर्मा ने अपनी फर्जी मेल आई0डी0 से टेक्स इनव्हाइस फरियादी को भेजा और इसके आधार पर फरियादी ने 4.5 लाख के चार बार में कुल 18 लाख रूपये विपिन शर्मा नामक व्यक्ति के द्वारा दिये गये खाते में डाल दिये। खातों से प्राप्त जानकारी के आधार पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना की गई । 


*तरीका वारदात:-* फरियादी द्वारा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के लिए इण्डिया मार्ट की साइट से लिए गये नंबर पर जब काल किया गया तो आरोपी विशाल उर्फ रोहदास विपिन शर्मा ने स्वयं को सुरभि इंटरप्राइज़ेज नामक बंबई की कंपनी का कर्मचारी बता कर अक्षय जैन से बात की और कुल 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के 18 लाख रूपये में सौदा तय किया। इसके पश्चात् आरोपी ने फर्जी मेल आई0डी0 विपिन शर्मा नाम से बना कर फरियादी को उसकी मेल आई0डी0 पर 04 टेक्स इनव्हाइस भेजे। टेक्स इनव्हाइस पर आरोपी द्वारा सुरभि इंटर प्राइजे़ज कंपनी, बंबई का जी0एस0टी0एन0 नंबर भी डाला गया। फरियादी को टेक्स इनव्हाइस सही लगा जिसके कारण फरियादी ने 4.5 लाख के 04 ट्रांजेक्सन कर कुल 18 लाख रूपये आरोपी के खाते में रूपये जमा किये। फर्जी खाते आरोपीगणो के थे, जिससे पैसा निकाला गया इन खातो में आरोपी द्वारा फर्जी आइडी का प्रयोग किया गया है।


 अरोपीगण कर्ज चुकाने में ठगी की राशि का प्रयोग कर रहे थे। आरोपीगणों द्वारा इस तरह की वारदात भोपाल, फरीदाबाद, हैदराबाद जिलों में की गई जिसके साक्ष्य सामने आये। आरोपीगणों को फरीदाबाद पुलिस की कार्यवाही पर गुडगांव व फरीदाबाद जेल में निरूद्ध किया गया है।


 पुलिस कार्यवाही- सायबर क्राइम जिला भोपाल की टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपी के खाते में 07 लाख रूपये फ्रीज किये गये है । जिसका लाभ फरियादी को प्राप्त होगा।


आरोपीगणो का विवरण:- क्र0  नाम आरोपी जाहिरा व्यवसाय


1-नितिश अग्रवाल पिता राजीव अग्रवाल निवासी 4/54 नेहरू गली विश्वास नगर नार्थ ईस्ट दिल्ली वर्तमान पता फ्लैट नंबर ए810 ओएक्सवाय होम्स नियर कोयल एन्कलेव गाजीयाबाद भोपुरा उ0प्र0 खाता का उपयोगकर्ता।


2- अभिनव उर्फ विजय मलिक पिता राजीव खंडेलवाल निवासी म.न. 388 गली नंबर 6 ज्वाला नगर शाहदरा दिल्ली खाताधारक।


3- विशाल उर्फ रोहदाश पिता स्व0 कालीचरण शर्मा निवासी गांव दुमेडी थाना इगलाशजिला अलीगढ उ0प्र0 इनव्हाइस मेल करना, ग्राहको से फोन पर बात करना।


पुलिस टीम:- उनि0 बृजकिशोर गर्ग, आर0 3882 शुभम चौरसिया, आर0 4020 प्रताप सिंह, आर0 1966 अभिषेक चौधरी, मआर0 852 हेमा यादव।